Today News Hunt

News From Truth

हरियाणा की तर्ज पर हिमाचल के पत्रकारों को पेंशन सुविधा दिलाने की मांग को लेकर भारतीय पत्रकार कल्याण मंच व प्रेस क्लब शिमला ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को सौंपा गया ज्ञापन

1 min read
Spread the love

भारतीय पत्रकार कल्याण मंच व प्रेस क्लब शिमला के संयुक्त तत्वाधान में पत्रकारों की पेंशन को लेकर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को एक ज्ञापन सौंपा गया। पत्रकारों के शिष्टमंडल ने ज्ञापन के माध्यम से मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि जिस प्रकार हरियाणा में पत्रकारों को पिछले 3 साल से पेंशन की सुविधा दी जा रही है। उसी तर्ज पर हिमाचल के पत्रकारों को भी पेंशन सुविधा का लाभ दिया जाए। शिष्टमंडल में शामिल भारतीय पत्रकार कल्याण मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष पवन आश्री, महासचिव मेवा सिंह राणा व प्रेस क्लब शिमला के अध्यक्ष व भारतीय पत्रकार कल्याण मंच के हिमाचल प्रदेश के अध्यक्ष अनिल भारद्वाज हेडली, प्रेस क्लब शिमला के कोषाध्यक्ष व मंच के महासचिव उज्जवल शर्मा, प्रेस क्लब शिमला के उपाध्यक्ष व मंच के उपाध्यक्ष पराक्रम चंद ने बताया कि प्रेस क्लब शिमला भारतीय पत्रकार कल्याण मंच के साथ मिलकर प्रदेश के पत्रकारों के कल्याण के लिए काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि जिस तरह से हरियाणा में पत्रकारों को हरियाणा सरकार पेंशन सुविधा स्वास्थ्य सेवा का लाभ दे रही है। उसी प्रकार से हिमाचल प्रदेश सरकार से भी गुहार लगाई गई है कि हिमाचल के पत्रकारों को भी पेंशन योजना का लाभ दिया जाए। इसी को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को एक ज्ञापन सौंपा गया है। जिसमें मांग की गई है कि मीडिया पॉलिसी में पेंशन योजना को शामिल किया जाए ताकि विपरीत परिस्थितियों में काम करने वाले हिमाचल के पत्रकारों को भी पेंशन योजना का लाभ प्राप्त हो सके। भारतीय पत्रकार कल्याण मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष पवन आश्री ने बताया कि हरियाणा सरकार पत्रकारों को 10000 महीना पैंशन और स्वास्थ्य सेवा का लाभ दे रही है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की सरकार को भी मीडिया पॉलिसी में पत्रकारों की पेंशन व स्वास्थ्य योजना को शामिल करना चाहिए ताकि पत्रकारों के कल्याण हेतु हिमाचल प्रदेश सरकार का यह कदम अन्य राज्यों के लिए भी अनुकरणीय बने। प्रेस क्लब शिमला के अध्यक्ष अनिल भारद्वाज हेडली ने बताया कि हिमाचल प्रदेश सरकार यदि हिमाचल में पेंशन योजना शुरू करती है तो यह हिमाचल प्रदेश सरकार का बहुत ही सराहनीय कार्य होगा। जिसके लिए प्रेस क्लब शिमला लंबे समय से भारतीय पत्रकार कल्याण मंच के साथ मिलकर प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि पत्रकारों की सुरक्षा व स्वास्थ्य को लेकर भी भारतीय पत्रकार कल्याण मंच व प्रेस क्लब शिमला समय-समय पर सरकार को सुझाव देता रहा है। उन्होंने कहा कि पत्रकारों के कल्याण हेतु पेंशन योजना का लागू होना इसलिए भी आवश्यक है क्योंकि पत्रकार जिंदगी भर सरकार की नीतियों का प्रचार प्रसार करने के साथ-साथ सरकार को सचेत करने का काम भी करता है ताकि जनता के हित में सरकार नीतियां बना सके। इसलिए पत्रकारों की आयु 60 वर्ष होने पर उनके गुजारे भत्ते के तौर पर पेंशन की राशि उन्हें सम्मानजनक जीवन जीने में सहायक सिद्ध होगी। मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष पवन आश्री ने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पत्रकारों के कल्याण हेतु हिमाचल के पत्रकारों के लिए पेंशन योजना जल्द लागू करवाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed