Today News Hunt

News From Truth

प्रदेश भर में आयोजित कंडक्टर भर्ती परीक्षा में कोरोना संक्रमितों के भाग लेने पर आम आदमी पार्टी ने घेरा सरकार को- बड़ी चूक दिया करार

1 min read
Spread the love


हिमाचल प्रदेश परिवहन निगम में खाली पड़े कंडक्टरों के 568 पदों के लिए परीक्षा मेंं बैैैठे 60,000 परीक्षार्थियों में कोरोना संक्रमितों के शामिल होने से बड़े स्तर पर संक्रमण का खतरा बढ़ गया है और इसके लिए आम आदमी पार्टी ने सरकार पर गैरज़िम्मेदाराना रवैया अपनाने के आरोप लगाए हैं। शिमला शहरी विधानसभा क्षेत्र के आम आदमी पार्टी प्रभारी एसएस जोगटा ने सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा के जिला कांगड़ा में जिस तरह से एक कोरोना पॉजिटिव परीक्षार्थी ने कंडक्टर भर्ती की परीक्षा में हिस्सा लिया उससे अन्य अभ्यर्थियों को भी संक्रमण का खतरा पैदा हो गया है और इसके लिये सीधे तौर पर स्थानीय प्रशासन और राज्य सरकार ज़िम्मेदार है। जोगटा ने कहा कि कंडक्टरों की लिखित परीक्षा में कांगड़ा जिला का एक युवा जो करोना से संक्रमित था ने भी तंत्र की नालायकी से लिखित परीक्षा में भाग लिया।जब की हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर ने इस बाबत संबंधित प्रशासन को पहले ही सूचना भिजवा दी थी।उसके बावजूद भी प्रशासन मूक दर्शक बना रहा।परिणामस्वरूप उस करोना से पीड़ित युवा की वजह से और कई लोग भी संक्रमित हो सकते हैं । उन्होंने पेपर लीक मामले में भी सरकार को आड़े हाथ लिया डॉक्टर ने कहा कि यदि पेपर ही लीक करना था तो प्रदेश के बेरोजगारों से बार बार फीस के रूप में इकट्ठे किए गए करोड़ों रुपए किस बात के। जिस कारण हजारों बेरोजगारों की फौज के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया गया है।इंन तमाम बातों के लिए निगम तथा प्रदेश सरकार दोषी है।तथा हिमाचल प्रदेश आम आदमी पार्टी सर्वप्रथम परिवहन मंत्री का इस्तीफा मांगती है,ओर पिछले कल की इस भर्ती परीक्षा को तत्काल प्रभाव से रद करने की मांग करती है।ये भी मांग करती है एक निश्चित उपयुक्त तिथि तय करके परीक्षा का फूलप्रूफ आयोजन दोबारा किया जाए। जिसके लिए इन्हीं परीक्षार्थी से किसी भी प्रकार की फीस न बासुली जाए तथा वर्तमान में जो एडमिट कार्ड,रोल नंबर इत्यादि इन्हे प्रदान किए गए थे उसी के आधार पर द्वारा इन्हे परीक्षा में बैठाया जाए।इतना ही नहीं इन तमाम परीक्षार्थियों के आने जाने का किराया माफ किया जाए तथा रहने सेहने का खर्चा भी निगम बहन करे।ताकि इन बेरोजगारों को किसी भी तरह की तकलीफ़ न हो।क्योंकि परिवहन निगम की खामियों का खामियाजा ये युवा क्यों भुगते।
यहां जारी एक बयान में हिमाचल प्रदेश आम आदमी पार्टी के शिमला(शहरी)विधान सभा क्षेत्र के प्रधान एस०एस०जोगटऻ,ने कहा है कि उपरोक्त भर्ती को यदि एक घोटाले का स्वरूप दिया जाए तो अतिशयोक्ति नहीं होनी चाहिए।जोगटऻ ने ये भी मांग की है कि इस तमाम मुदे पर माननीय हाई कोर्ट के वर्तमान में सेवारत न्यायधीश की अध्यक्षता में जांच हो।जांच से पहले इस कृत्य में जो भी प्रशासन के ओर बाहर के लोग सलिंप्त है उन पर संबंधित धारा के तहत एफ आई आर दर्ज करके उन्हें सलाखों के पीछे डालें ओर आइंदा के लिए ऐसे अधिकारियों को ऐसे संवेदन शील विषय ना सौंपे जाए।आम आदमी ऐसे विषयों को लेकर सजग ही नहीं अपितु गंभीर भी है तथा आम लोगों के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा,जिसके लिए आम आदमी पार्टी हर तरह से किसी भी हद तक जाने को तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed