Today News Hunt

News From Truth

मुख्यमंत्री ने जोगिन्द्रनगर के चौंतड़ा में किए 110 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास

1 min read
Spread the love

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने जिला मण्डी के जोगिन्द्रनगर में स्वर्ण जयंती पंच परमेश्वर ग्राम स्वराज सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के पंचायती राज संस्थानों को सुदृढ़ करने के लिए संकल्पबद्ध हैं, क्योंकि ये लोकतंत्र की आधारभूत इकाई हैं और प्रदेश के समग्र विकास में इनका योगदान महत्वपूर्ण है। प्रदेश सरकार पंचायती राज संस्थानों का सुचारू क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए निर्वाचित प्रतिनिधियों को हर संभव सहायता प्रदान करेगी। उन्होंने पंचायती राज संस्थानों के निर्वाचित प्रतिनिधियों को अधिक जिम्मेदारी और समर्पण भाव के साथ कार्य करने का आग्रह किया ताकि वे लोगों की अपेक्षाओं पर खरा उतर सकें। उन्होंने पंचायती राज संस्थानों के प्रभावी कार्यान्वयन में महिलाओं की भूमिका की भी सराहना की। उन्होंने संस्थानों के निर्वाचित प्रतिनिधियों से प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई विभिन्न विकासात्मक योजनाओं के लाभार्थियों की पहचान करने का भी आग्रह किया ताकि समाज के निम्न वर्ग को विकास के लाभ मिल सकें।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य के पांच लाख से अधिक वृद्धजनों को वृद्धावस्था पेंशन प्रदान कर रही है। 65 वर्ष से अधिक आयु वर्ग की सभी पात्र महिलाओं को बिना किसी आय सीमा के वृद्धावस्था सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के अन्तर्गत प्रदेश में 3.17 लाख निःशुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किए गए हैं और हिमाचल प्रदेश देश का पहला धुआं मुक्त राज्य बन गया है। उन्होंने का कि कोरोना महामारी के कारण अपने माता-पिता खोने वाले बच्चों को प्रतिमाह 3500 रुपये प्रदान किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कठोर प्रयास कर रही है और इस संक्रमण के नियंत्रण के लिए व्यावहारिक कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा कि इस महामारी से पूर्व प्रदेश में केवल एक आॅक्सीजन संयंत्र था, परन्तु आज प्रदेश में 12 आॅक्सीजन संयंत्र कार्यशील हैं और प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर 28 और आॅक्सीजन संयंत्र लगाए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में जोगिन्द्रनगर विधानसभा आदर्श विधानसभा बनने की ओर अग्रसर है। उन्होंने आज जोगिन्द्रनगर विधानसभा क्षेत्र के चौंतड़ा में 110 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियाजनाओं के शिलान्यास व लोकार्पण किए हैं। उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शित करता है कि पिछले साढ़े तीन सालों में विकास की गति को बढ़ावा मिला है। जोगिन्द्रनगर विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस महामारी के बावजूद प्रदेश सरकार राज्य का निर्बाध गति से विकास सुनिश्चित कर रही है, जिसके लिए उन्होंने शिमला से वर्चुअली राज्य के लगभग 42 विधानसभा क्षेत्रों में 4000 करोड़ रुपये लागत की विकासात्मक परियोजनओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए हैं।

जय राम ठाकुर ने कहा कि जोगिन्द्रनगर क्षेत्र में 160 करोड़ रुपये लागत की तीन जलापूर्ति और सिंचाई परियोजनाओं का निर्माण किया जाएगा, जिनके पूरा होने से क्षेत्र की वर्षों से चली आ रही पानी की समस्या का समाधान सुनिश्चित होगा।

मुख्यमंत्री ने चौंतड़ा में कड़कनाथ ब्रीड की हैचरी, 15 लाख रुपये की लागत से फनाहिया गल्लु सड़क की मैटलिंग व टायरिंग, 15 लाख रुपये की लागत से खनागर सड़क, तीन नई पंचायतों के पंचायत भवन निर्माण के लिए प्रत्येक को 10 लाख रुपये, लडभड़ोल में अटल आदर्श विद्यालय खोलने, क्षेत्र के पशु अस्पताल भवन के लिए 50 लाख रुपये, पीपली ग्राम पंचायत में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने, स्वास्थ्य उपकेन्द्र गोलवा को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने, पुलिस चैकी लड़भडोल को पुलिस थाना में स्तरोन्नत करने, मकरेड़ी में लोक निर्माण विभाग का उप मण्डल खोलने, सीआरएफ के अन्तर्गत कोटीपतन पुल के लिए 23 करोड़ रुपये, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र चैंतड़ा को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्तरोन्नत करने, वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला चैंतड़ा में बहुउद्देशीय स्टेडियम के निर्माण और कन्या विद्यालय जोगिन्द्रनगर में बैडमिंटन कोर्ट के निर्माण और प्रेस क्लब भवन जोगिन्द्रनगर के लिए 10 लाख रुपये देने की घोषणा की।

जय राम ठाकुर ने जोगिन्द्रनगर में एचआरटीसी के क्षेत्रीय प्रबन्धक कार्यालय का लोकार्पण किया और नए बस रूट जोगिन्द्रनगर से सीमास को झंडी दिखाई। उन्होंने नाबार्ड के अन्तर्गत 5.67 करोड़ रुपये लागत से निर्मित डोल रक्ताल चंगेड़ सड़क और पट्टा नाला पर पुल का लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री ने जोगिन्द्रनगर तहसील में 25.85 करोड़ रुपये की लागत से उठाऊ जलापूर्ति योजना नेरी चिमणु, लांगणा, उठाऊ जलापूर्ति योजना कराग फागला, जलापूर्ति योजना कथोण, पंजालग, पेयजल आपूर्ति योजना खुड्डी रास, डुग, टोडल, गदयाड़ा, खडीहार जलापूर्ति योजना व जलापूर्ति योजना चतुर्भुजा बसाही, तहसील जोगिन्द्रनगर की ग्राम पंचायत ब्यूंह और नोहली की बस्तियों के लिए 9.99 करोड़ रुपये लागत की उठाऊ जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत टिकरी, मुशैहरा, भरयारा, चैंतड़ा और पडेन सैंथल में 6.52 करोड़ रुपये लागत की उठाऊ जलापूर्ति योजना और चैंतड़ा खण्ड में 7.19 करोड़ रुपये की सात सिंचाई योजनाओं के कल्स्टर का शिलान्यास किया।

जय राम ठाकुर ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत 14.52 करोड़ रुपये लागत से धेलु से भतेहर सड़क के उन्नयन कार्य और 12.72 करोड़ रुपये लागत से नाबार्ड के अन्तर्गत बगोड़ा बगला हार्ड रोपड़ी मोरदुग चांदनी सड़क की मैटलिंग, टायरिंग कार्य एवं शेष कार्यों का भूमि पूजन किया।

ग्राामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेन्द्र कंवर कहा कि यह मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के प्रयासों के फलस्वरूप ही पंचायती राज संस्थानों के प्रभावी संचालन के लिए पंचायती राज संस्थानों के नव-निर्वाचित सदस्यों को विभिन्न नियमों के बारे में प्रशिक्षित करने के लिए इस प्रकार के सम्मेलन सम्पूर्ण प्रदेश में आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अपने-अपने क्षेत्र का विकास सुनिश्चित करने के लिए पंचायती राज संस्थानों को 429 करोड़ रुपये सीधे तौर पर प्रदान किए गए हैं जिससे इन संस्थाओं का सशक्तिकरण हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पंचायतों के तहत केवल मनरेगा के अन्तर्गत 950 करोड़ रुपये व्यय किए गए हैं। उन्होंने कहा कि विभिन्न मदों के अन्तर्गत प्रदेश में पंचायती राज संस्थानों द्वारा गत एक वर्ष में 2000 करोड़ रुपये व्यय किए गए हैं।

जोगिन्द्रनगर के विधायक प्रकाश राणा ने अपने विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए क्षेत्र की विभिन्न मांगों से अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि आज का दिन जोगिन्द्रनगर के लोगों के लिए ऐतिहासिक है क्योंकि आज मुख्यमंत्री ने क्षेत्र के लिए 110 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास किए हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर राजनीति के बजाय विकास नीति पर विश्वास करते हैं और प्रदेश के सभी क्षेत्रों का संतुलित व समग्र विकास सुनिश्चित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में आगामी वर्षों में प्रदेश नई बुलंदियों को हासिल करेगा।

पूर्व मंत्री ठाकुर गुलाब सिंह ने जोगिन्द्रनगर में विकास की निर्बाध गति सुनिश्चित करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के एक दिवसीय दौरे के दौरान मुख्यमंत्री ने जोगिन्द्रनगर के लोगों के लिए करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की हैं।

जल शक्ति मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर, बैजनाथ के विधायक मुल्ख राज प्रेमी, उपायुक्त मण्डी अरिंदम चैधरी और पुलिस अधीक्षक मण्डी शालिनी अग्निहोत्री भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

                                                             

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed