Today News Hunt

News From Truth

मुख्यमंत्री ने सुन्दरनगर में 39 करोड़ 37 लाख रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिला रखीं

1 min read
Spread the love

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने सुन्दरनगर में खण्ड के पंचायती राज संस्थाओं और नगर परिषद सुन्दरनगर के निर्वाचित सदस्यों के सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए कहा कि मण्डी जिले की सुन्दरनगर विधानसभा क्षेत्र में 300 करोड़ रुपये की 39 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए गए है, जिनमें से 249 करोड़ रुपये की परियोजनाएं आज ही क्षेत्र के लोगांे का समर्पित की गई हंै। उन्होंने कहा कि पिछले कल क्षेत्र के लोगांें के लिए 50 करोड़ रुपये की परियोजनाएं समर्पित की गई थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायती राज संस्थाएं स्थानीय प्रशासन की बुनियादी इकाई है। इस प्रणाली में तीन स्तर, ग्राम स्तर पर ग्राम पंचायत, खण्ड स्तर पर पंचायत समिति और जिला स्तर पर जिला परिषद होते हैं। उन्होंने कहा कि पंचायती राज मंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने पंचायती राज संस्थाओं के प्रभावी और सुचारू कार्य प्रणाली के लिए महत्त्वपूर्ण पहल की थी। पंचायतों को और अधिक सक्रिय बनाने के लिए और अधिक कदम उठाए जाने चाहिए। उन्होंने निर्वाचित प्रतिनिधियों से लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए पूरी पारदर्शिता और जिम्मेदारी के साथ कार्य करने का आग्रह किया।

जय राम ठाकुर ने कहा कि आज पंचायतों के पास पर्याप्त धनराशि उपलब्ध है। इसलिए पंचायतों की जिम्मेदारी और अधिक बढ़ गई है। पंचायत प्रतिनिधियों को समर्पण भाव के साथ कार्य करना चाहिए ताकि उनके क्षेत्र में तीव्र गति से विकास सुनिश्चित हो सकंे। उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं को भी प्रभावी नीतियों के निर्माण में आगे आना चाहिए। उन्होंने निर्वाचित प्रतिनिधियों से प्रदेश सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों का प्रभावी प्रचार-प्रसार करने का आग्रह किया।

मुख्यमंत्री ने प्रधानों से अपनी विकासात्मक मांगों को प्राथमिकता देने का आग्रह किया ताकि वे क्षेत्र में अधिकतम विकास सुनिश्चित कर सकें। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार पंचायती राज संस्थाओं के निर्वाचित सदस्यों को भरपूर सहयोग प्रदान करेंगी। मुख्यमंत्री ने उनसे अपने क्षेत्र के सभी विकासात्मक कार्यों में गुणवत्ता सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

जय राम ठाकुर ने कोविड-19 की पहली लहर के दौरान पंचायती राज संस्थाओं द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्य की सराहना करते हुए उनसे इस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए राज्य सरकार को और अधिक सहयोग प्रदान करने का आग्रह किया। प्रतिनिधियों को लोगों को कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन करने के लिए प्रेरित करना चाहिए। उन्होंने पंचायती राज संस्थाओं के निर्वाचित प्रतिनिधियों से लोगों को कोविड टीकाकरण के लिए प्रेरित करने का भी आग्रह किया। उन्होंने प्रतिनिधियों को विभाग द्वारा आयोजित प्रशिक्षण में सक्रिय रूप से भाग लेने का आग्रह किया।

उन्होंने क्षेत्र के लोगांे की सुविधा के लिए किसान प्रशिक्षण केन्द्र सुन्दरनगर में हाॅल सामुदायिक का जीर्णोधार करने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर पंचायती राज संस्थाओं और शहरी स्थानीय निकायों के निर्वाचित सदस्यों को शिक्षा एवं सूचना किट भी वितरित की।

इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने ग्राम पंचायत कलाहोड़ में कलाहोड़, डेरडू और थारा गांव की आंशिक रूप से कवर की गई बस्तियों के लिए 4.25 करोड़ रुपये की लागत से उठाऊ जल आपूर्ति योजना, सुन्दरनगर में 3 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित हिमाचल प्रदेश राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की स्थानीय प्रयोगशाला के भवन और 4.5 करोड़ रुपये की लागत से सीटी लाइवलीहुड केन्द्र के भवन का लोकार्पण किया।

जय राम ठाकुर ने 39.37 करोड़ रुपये की लागत की विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिला रखीं, जिनमें 14.10 करोड़ रुपये की लागत से किसान प्रशिक्षण केन्द्र भवन, 66 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाला संयुक्त निदेशक तकनीकी शिक्षा सुन्दरनगर का आवास, नगर निगम सुन्दरनगर के अन्तर्गत शेष बचे क्षेत्र को मलनिकासी सुविधा प्रदान करने के लिए सुन्दरनगर में 19.36 करोड़ रुपये की लागत से मलनिकासी संयंत्र के स्तरोन्यन, 2.89 करोड़ रुपये की लागत से ग्राम पंचायत भनवाड़ में उठाऊ जल आपूर्ति योजना चैमुखा नलिनी के पुनर्निर्माण, ग्राम पंचायत खिलारा में 65 लाख रुपये की लागत से उठाऊ जल आपूर्ति योजना, ग्राम पंचायत कलाहोड़ में 1.41 करोड़ रुपये की लागत की उठाऊ सिंचाई योजना, सुन्दरनगर में 10.5 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले इंडोर-स्टेडियम/बहुद्देशीय स्पोर्ट्स हाॅल, 3.94 करोड़ रुपये की लागत से वन प्रशिक्षण केन्द्र परिसर में निर्मित होने वाले सर्विस स्टाफ प्रशिक्षण होस्टल, वन प्रशिक्षण संस्थान और 5.34 करोड़ रुपये की लागत से रेंजर महाविद्यालय सुन्दरनगर में आॅडिटोरियम, जिम्नेजियम और बैंडमिंटन हाॅल तथा वन प्रशिक्षण और रेंजरज महाविद्यालय सुन्दरनगर में 97 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले फैक्लिटी के लिए होस्टल की आधारशिला रखी।

सुन्दरनगर के विधायक राकेश जम्वाल ने 300 करोड़ रुपये की लागत की विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि आज मुख्यमंत्री ने केवल सुन्दरनगर के लिए ही 13 विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की हैं। प्रदेश का योजनाबद्ध और संतुलित विकास सुनिश्चित करने के लिए मुख्यमंत्री के सशक्त नेतृत्व के फलस्वरूप ही प्रदेश में 412 नई पंचायतों और 3 नई नगर परिषदों का गठन हुआ है। उन्होंने मुख्यमंत्री का सुन्दरनगर अस्पताल में 1000 एलपीएम आॅक्सीजन संयंत्र का कार्य आरम्भ करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

सुन्दरनगर भाजपा मण्डलाध्यक्ष प्रताप ठाकुर ने भी मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।

उपायुक्त मंडी अरिंदम चैधरी ने सम्मेलन में मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि पंचायती राज संस्थाओं और शहरी स्थानीय निकायों के निर्वाचित प्रतिनिधियों को पंचायती राज संस्थाओं की भूमिकाओं और जिम्मेदारियों की मुद्रण सामग्री उपलब्ध करवाई जाएगी।

नाचन के विधायक विनोद कुमार, राज्य प्रवक्ता अजय राणा, संगठन जिला सुन्दरनगर के भाजपा अध्यक्ष दलीप ठाकुर, नगर परिषद सुन्दरनगर के अध्यक्ष जितेन्द्र शर्मा, उपाध्यक्ष रक्षा धीमान, पुलिस अधीक्षक मंडी शालिनी अग्निहोत्री इस अवसर पर उपस्थित थीं।

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed