Today News Hunt

News From Truth

जल व ऊर्जा र्क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए भारतीय कंक्रीट संस्थान ने एच पी ई आर सी अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा को किया सम्मानित,नवाजा लाइफ टाइम एचीवमेंट अवार्ड से

1 min read
Spread the love

भारतीय कंक्रीट संस्थान ने हिमाचल प्रदेश विद्युत नियामक आयोग के अध्यक्ष देवेंद्र कुमार शर्मा को ‘लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड’ से सम्मानित किया। शिमला में आयोजित एक समारोह में उन्हें यह पुरस्कार जल व ऊर्जा क्षेत्र में समग्र उत्कृष्टता और योगदान के लिए दिया गया है। देवेंद्र शर्मा राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बोर्ड, भारत सरकार के सदस्य भी हैं। इससे पहले, वह अप्रैल, 2017 से जुलाई, 2020 तक भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड के अध्यक्ष पद पर कार्यरत थे। बीबीएमबी में उनके कार्यकाल के दौरान, भारतीय कंक्रीट संस्थान ने राष्ट्रीय महत्व की संपत्ति के प्रबंधन में देवेंद्र शर्मा द्वारा किए गए महत्वपूर्ण योगदान और जल संसाधनों, बांध सुरक्षा, बांधों के संचालन और रखरखाव और जलविद्युत परियोजनाओं के क्षेत्र में उनके विशिष्ट योगदान और भागीदार राज्यों को पानी और बिजली के वितरण की सराहना की। भारतीय कंक्रीट संस्थान शिमला केंद्र ने पूरे देश में जल संसाधन, बांध इंजीनियरिंग, जलविद्युत परियोजनाओं और ऊर्जा क्षेत्र में पिछले चालीस वर्षों के दौरान देवेंद्र शर्मा द्वारा किए गए कार्यों और योगदान की भी सराहना की। देवेंद्र कुमार शर्मा ने उन्हें यह पुरस्कार प्रदान करने के लिए भारतीय कंक्रीट संस्थान को धन्यवाद दिया तथा यह पुरस्कार अपने टीम के साथियों को समर्पित किया जिन्होंने उनके 40 से अधिक वर्षों के Professional करियर के दौरान चुनौतीपूर्ण कार्यों में उनके साथ काम किया। उन्होंने अपने अपने परिवार के सदस्यों को भी पूरे करियर में निरंतर समर्थन के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने उम्मीद जताई कि यह पुरस्कार राष्ट्रीय जल और ऊर्जा सुरक्षा के लिए काम करने वाले पेशेवर युवाओं को प्रेरित करेगा। उन्होंने कहा कि वह राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को मान्यता देने के लिए बहुत सम्मानित महसूस कर रहे हैं। श्री शर्मा को जल संसाधन, बांध इंजीनियरिंग और ऊर्जा क्षेत्रों में पेशेवर अनुभव है। उन्होंने पूरे देश और भूटान में सिंचाई और जलविद्युत परियोजनाओं के लिए कई बांधों की योजना, डिजाइन, निर्माण और संचालन और रखरखाव पर काम किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed