Today News Hunt

News From Truth

मुख्यमंत्री ने कोविड-19 मरीजों के ईलाज के लिए शिमला के आईजीएमसी में बन रहे ओपीडी के कार्य की प्रगति का जायजा लिया

1 min read
Spread the love

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज इन्दिरा गांधी चिकित्सा महाविद्यालय एवं चिकित्सालय, शिमला का दौरा कर नई ओपीडी की प्रगति के बारे में जानकारी हासिल की। इस ओपीडी का उपयोग कोविड-19 मरीजों के ईलाज के लिए किया जाएगा।

इसके उपरांत, मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि नई ओपीडी में लगभग 500 कोविड मरीजों को रखने की क्षमता होगी। उन्होंने कहा कि ट्रामा वार्ड का कार्य भी पूरा होने वाला है और विपरित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल भी कोविड मरीजों के ईलाज के लिए किया जा सकता है।

जय राम ठाकुर ने लोगों से राज्य में इस महामारी से लड़ने के लिए अपना पूर्ण सहयोग देने का आग्रह किया। उन्होंन कहा कि लोगों को राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी की गई मानक संचालन प्रक्रियाओं का सख्ती से पालन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य में टीकाकरण की प्रक्रिया सुचारू रूप से चल रही है। राज्य को वैक्सीन निर्माताओं से दवाई का कोटा प्राप्त होते ही 18 से 44 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण के चरण की शुरूआत की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आईजीएमसी शिमला के निकट स्मार्ट सिटी परियोजना के अन्तर्गत 32 करोड़ रुपये की लागत से बहुमंजिला पार्किंग का निर्माण कार्य किया जा रहा है। इस पार्किंग में लगभग 500 वाहनों को पार्क करने की क्षमता होगी और इसकी क्षमता 800 वाहनों तक बढ़ाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि इस स्मार्ट कार पार्किंग से न केवल मरीजों और उनके सहायकों बल्कि चिकित्सकों और पैरामेडिकल स्टाफ को भी पर्याप्त पार्किंग की सुविधा उपलब्ध होगी।

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. राजीव सैजल, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल, स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी, आईजीएमसी के प्रधानाचार्य डाॅ. रजनीश पठानिया, वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. जनक राज और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

.0.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed