Today News Hunt

News From Truth

ब्रीद शिमला योग से निरोग प्रोजेक्ट को शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने वर्चुअल माध्यम से किया शुभारम्भ, लोगों से जुड़ने का किया आह्वान

1 min read
Spread the love

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कोरोना संक्रमण से जूझ रहे प्रदेश के सभी लोगों से योग प्राणायाम और श्वास की क्रियाओं को अपनी दिनचर्या में शामिल करने का आव्हान किया । शिमला में वर्चुअल माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय सामाजिक संस्था आर्ट ऑफ लिविंग की ओर से कोरोना संक्रमितों के लिए चलाए जा रहे “ब्रीद शिमला योग से निरोग” कार्यक्रम का शुभारंभ करने के दौरान उन्होंने कोरोना को हराने के लिए योग व प्राणायाम को महत्वपूर्ण बताया । सुरेश भारद्वाज ने कोरोना संक्रमण के अपने अनुभवों को साझा करते हुए कहा कि इस महामारी के संक्रमण के दौरान मरीजों को सबसे अधिक समस्या सांस लेने में रहती है और सबसे बड़ी चुनौती फेफड़ों को संक्रमित होने से बचाने की रहती है । उन्होंने कहा कि आर्ट ऑफ लिविंग संस्था द्वारा सिखाई जा रही श्वास की प्रक्रियाएं प्राणायाम बेहद लाभकारी हैं और सभी को इसका लाभ उठाना चाहिए । इस मौके पर आर्ट ऑफ लिविंग के अंतरराष्ट्रीय प्रशिक्षक सुकान्त पाल चौहान ने दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल के एमएस डॉक्टर रवींद्र मोक्टा और डॉ प्रवीण सहित अन्य लोगों को भस्त्रिका,भ्रामरी प्राणायाम सहित कई अन्य यौगिक श्वास क्रियाएं सिखाई। आर्ट ऑफ लिविंग की प्रदेश मीडिया समन्वयक तृप्ता शर्मा ने बताया कि संस्था की ओर से इस कार्यक्रम को तीन श्रेणियों में बांटा गया है जिसके तहत स्वस्थ आबादी के लिए प्रतिरक्षा और फेफड़ों की क्षमता बनाने में मदद करना सांस संबंधी व्यायाम में समर्थन देना और हल्के लक्षणों वाले रोगियों के लिए घर या अस्पताल में कार्यशाला का आयोजन ऑनलाइन करना साथ ही covid के बाद के कार्य काल में पुनर्वास और आहार व्यवहार के बारे में जानकारी दी जाएगी आर्ट ऑफ लिविंग वरिष्ठ प्रशिक्षक अभय शर्मा ने बताया कि इस दौरान करो ना फोटो के चलते होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को निशुल्क भोजन वितरित किया जाएगा जिसके समन्वयक बिंदु ठाकुर, कांता शर्मा, भूपेंद्र और सावित्री होंगे । इस कार्यक्रम के शुभारंभ पर आर्ट ऑफ लिविंग की ओर से अनूप वैद, अम्बिका,मनाली वर्मा,मदन,नीलम गुप्ता सहित कई अन्य सदस्य मौजूद रहे। भाजपा नेता कुसुम सदरेट, राजेश शारदा, गगन लखनपाल और अन्य लोग भी वर्चुअल माध्यम से जुड़े ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed