Today News Hunt

News From Truth

चौतरफा घिरे जलशक्ति मंत्री, शिक्षकों के बाद विपक्ष ने भी अध्यापकों की खिल्ली उड़ाने पर की कड़ी निंदा

1 min read
Spread the love

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह से शिक्षकों के खिलाफ उनकी अभद्र टिप्पणी पर माफ़ी मांगने की मांग की है।उन्होंने कहा है कि एक मंत्री ने शिक्षकों का ही नही,अपितु सारे समाज का अपमान किया है।उनके बयान से शिक्षकों के प्रति छात्रों में भी एक गलत और उनका अपमानजनक संदेश गया है जो सहन नहीं किया जा सकता।
आज यहां पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कुलदीप सिंह राठौर ने कोरोना काल में शिक्षकों के कार्यो की सराहना करते हुए कहा कि उनकी सेवाओं को देखते हुए सरकार ने उन्हें प्रथम पंक्ति के कोरोना यौद्धाओं का दर्जा दिया है।उन्होंने कहा कि महेंद्र सिंह की शिक्षकों पर की गई उनकी टिप्पणी बहुत ही निदनीय है।
राठौर ने कहा कि कोरोना काल मे शिक्षकों ने पूरी ईमानदारी के साथ अपना दायित्व निभाते हुए ऑनलाइन क्लासे लेकर बच्चों को पढ़ाया है,ऐसे में मंत्री के बयान ने उनके मनोबल पर विपरित असर डाला है।उनका यब बयान पूरी तरह से गैरजिम्मेदाराना और उनकी ओछी मानसिकता का परिचाय है।
राठौर ने कहा है कि महेंद्र सिंह हमेशा ही सुर्खियों में रहने के लिये अनाप शनाप बयानबाजी करते रहते है।अधिकारियों, कर्मचारियों व आम लोगों को डराना धमकाना उनकी आदत है।पिछले दिनों मुख्य सचिव जो अपनी ईमानदारी और कर्त्तव्य निष्ठा के लिये जाने जाते है के साथ उनकी बदसलूकी भी चर्चा में रही है।चुने हुए विधायक का इस प्रकार का आचरण व व्यवहार बहुत ही निदनीय है।
राठौर ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से इस बारे कड़ा संज्ञान लेने और अपने इन नेताओं को अपनी हद में रखने की सलाह देते हुए कहा है कि कांग्रेस भाजपा नेताओं के इस आचरण की भर्त्सना करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed