Today News Hunt

News From Truth

अस्पतालों में खून की भारी कमी को दूर करने के लिए संत निरंकारी मिशन आया आगे -शिमला के तारादेवी में आयोजित किया रक्तदान शिविर

1 min read
Spread the love

विश्व भर में जनकल्याण के कार्यों में अग्रणी भूमिका निभा रहा संत निरंकारी मिशन हिमाचल प्रदेश में भी समाज सेवा के क्षेत्र में अहम भूमिका निभा रहा है । मिशन की ओर से समय-समय पर स्वच्छता अभियान और रक्तदान शिविर सहित अनेक जनकल्याणकारी अभियान चलाए जाते रहे हैं। रविवार को भी मिशन की ओर से इसी तरह का के कार्य को अंजाम दिया गया । मिशन ने शिमला के आईजीएमसी अस्पताल में चल रही खून की कमी को दूर करने के लिए अस्पताल प्रशासन की ओर से किए गए आग्रह के बाद शिमला के तारा देवी के समीप फाइल्स निरंकारी भवन में स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन किया । इस शिविर में स्थानीय लोगों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया और रक्तदान जैसे पुनीत कार्य को अंजाम दिया। शिविर के दौरान निरंकारी मिशन के क्षेत्रीय संचालक नरेंद्र कश्यप ने रक्त दाताओं का उत्साह बढ़ाया और कहा कि सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज की कृपा से उनका मिशन समाज सेवा के सरोकार से जुड़े कार्यों को हमेशा अंजाम देता रहता है और यह शिविर भी इसी कड़ी का एक हिस्सा है नरेंद्र कश्यप ने कहा कि आई जी एम सी प्रबंधन की ओर से की गई अपील के बाद मिशन ने यह शिविर आयोजित किया था और भविष्य में भी वे इस तरह के शिविर लगाते रहेंगे ताकि खून की कमी से किसी को अपनी या अपनों की जान न गंवानी पड़े। इस दौरान 3 दर्जन से अधिक यूनिट रक्त एकत्र किया गया इस शिविर मैं आईएमसी की ब्लड बैंक से आए डॉ शिवानी सूद और उनकी टीम ने सहयोग दिया । डॉ शिवानी ने कहा कि रक्तदान से शरीर में किसी तरह की कोई कमजोरी नहीं आती लिहाजा समय-समय पर रक्तदान करते रहना चाहिए उन्होंने कहा कि रक्तदान कई मरीजों की जिंदगी बचा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed