Today News Hunt

News From Truth

शहरी विकास एवं विधि मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कोरोना को हराने के लिए सभी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए योग को अपनाने की दी सलाह

1 min read
Spread the love

कोरोना को हराने में योग प्राणायाम अचूक वार है यह बात शहरी विकास एवं नगर नियोजन मंत्री सुरेश भारद्वाज ने शिमला में वर्चुअल माध्यम से कोरोना से जूझ रहे लोगों से बात करते हुए कहीं । आयुष विभाग और आर्ट ऑफ लिविंग के संयुक्त तत्वाधान में कोरोना संक्रमितों के लिए योग प्राणायाम को सिखाने के लिए खास तौर पर आयोजित ब्रीद शिमला योग से निरोग अभियान चलाया गया है । इस अभियान में प्रदेश के सैंकड़ों कोरोना संक्रमितों को आर्ट ऑफ लिविंग के अंतरराष्ट्रीय प्रशिक्षक सुकान्त पाल चौहान के नेतृत्व में आर्ट ऑफ लिविंग के प्रशिक्षक योग और प्राणायाम सिखा रहे हैं जिससे कोरोना को मात देने मेंं काफी मदद मिली है ।कोरोना को हराने में योग प्राणायाम अचूक वार है यह बात शहरी विकास एवं नगर नियोजन मंत्री सुरेश भारद्वाज ने शिमला में वर्चुअल माध्यम से कोरोना से जूझ रहे लोगों से बात करते हुए कहीं । आयुष विभाग और आर्ट ऑफ लिविंग के संयुक्त तत्वाधान में कोरोना संक्रमितों के लिए योग प्राणायाम को सिखाने के लिए खास तौर पर आयोजित ब्रीद शिमला योग से निरोग अभियान चलाया गयाा है । इस अभियान में प्रदेश के सैंकड़ों कोरोना संक्रमितों को आर्ट ऑफ लिविंग के अंतरराष्ट्रीय प्रशिक्षक सुकान्त पाल चौहान के नेतृत्व में आर्ट ऑफ लिविंग के प्रशिक्षक योग और प्राणायाम सिखा रहे हैं जिससे कोरोना को मात देने मेंं काफी मदद मिली है ।वर्चुअल माध्यम से कोरोना संक्रमितों को संबोधित करते हुए सुरेश भारद्वाज ने कहा कि आयुष और आर्ट ऑफ लिविंग ने बहुत कम समय में इस अभियान को शुरू कर प्रदेश भर में बड़ी संख्या में लोगों को कोरोना को योग के माध्यम से हटाने का बेहतरीन प्रयास किया है । उन्होंने कहा कि आज पश्चिम में योग को लेकर सभी देश लालायित है लेकिन योग को देने वाला भारत योग को दरकिनार करता रहा है । भारद्वाज ने कहा कि मास्क लगाने , उचित दूरी बनाए रखने और बार-बार हाथ धोने जैसे दिशा निर्देशों का पालन करते हुए योग प्राणायाम से कोरोना को बेहतर तरीके से मात दे सकते हैं ।अपने अनुभव को साझा करते हुए उन्होंने कहा कि वह स्वयं भी योग के निरंतर अभ्यास के कारण कोरोना को हराने में सफल हुए। सुरेश भारद्वाज ने कहा की आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने संस्था के माध्यम से पूरे विश्व को को सुदर्शन क्रिया के रूप में एक नियामत दी है जिससे पूरी दुुनिया के लोग लाभान्वित हुए हैं । उन्होंने कहा कि कोरोना दौर के दौरान एलोपैथी विशेषज्ञों ने भी स्वीकार किया कि योग और प्राणायाम से कोरोना को हराने में मदद मिलती है ।उन्होंने कहा कि एम्स के डायरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया,वेदांता के डायरेक्टर डॉ नरेश त्रेहन और आईसीएमआर के डायरेक्टर जनरल ने भी योग की क्रियाओं को अपने जीवन में अपनाने की सिफारिश की है। इस दौरान कोरोना से जूझ रहे लोगों ने अपने अनुभव साझा करते हुए योग प्राणायाम से सकारात्मक ऊर्जा मिलने की बात कही और आयुष विभाग और आर्ट ऑफ लिविंग संस्था का आभार जताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed