Today News Hunt

News From Truth

उद्घाटनों में की गई देरी पर भड़के युवा विधायक विक्रमादित्य कहा – जानबूझ कर लंबित किया उद्घाटन कार्यक्रम

1 min read
Spread the love

शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में आज मुख्यमंत्री ने करोड़ों रुपए के उद्घाटन व शिलान्यास किये जिससे क्षेत्र की जनता लाभान्वित होगी। यहां से कांग्रेस के युवा विधायक विक्रमादित्य सिंह ने हालांकि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा उनके निर्वाचन क्षेत्र में पिछले दो डाई सालों से उदघाटन की राह देख रही इन योजनाओं को आज लोगों को समर्पित करने पर आभार व्यक्त किया है लेकिन साथ ही उन्होंने ये कहते हुए अपनी नाराजगी भी जाहिर की कि अच्छा होता अगर यह परियोजनाए समय पर लोगों को समर्पित कर दी जाती, जिससे लोगों को इसका लाभ तो मिलता ही साथ में सरकार इसके खालीपड़े रखरखाव के अनावश्यक खर्चे से भी बच सकती थी। इन उद्घाटनों व शिलान्यासों के समय पर सवाल उठाते हुए विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि आज जिन योजनाओं का मुख्यमंत्री ने लोकापर्ण किया है,वह पिछले दो ढाई साल से सरकार के लोकापर्ण की राह देख रही थी।उन्होंने कहा कि उनके बार बार मुख्यमंत्री से आग्रह के बाद भी इन्हें लोगों को समर्पित नही किया गया।उन्होंने कहा कि आज जब अब प्रदेश में पंचायत व नगर निकायों के चुनाव होने वाले है,सरकार को अब उनके इस क्षेत्र की याद आई है।उन्होंने कहा कि भाजपा अपना हर काम अपनी राजनीति के लाभ हानि से ही देखती आई है।
विक्रमादित्य सिंह ने कहा है कि उनके निर्वाचन क्षेत्र की यह योजनाएं जो आज लोगों को समर्पित की गई है उसमें बर्तमान भाजपा सरकार का कोई भी योगदान नही है।उन्होंने कहा है कि पूर्व वीरभद्र सिंह सरकार ने इन योजनाओं के लिए पूरा पैसा,बजट प्रदान किया था।उन्होंने आरोप लगाया कि बर्तमान सरकार ने इन योजनाओं को जानबूझकर इतने लंबे समय तक ठंडे बस्ते में डाल कर रखा,इसके लिए उनके क्षेत्र के लोग उन्हें कभी माफ नही करेंगे।

विक्रमादित्य सिंह की नाराज़गी की एक बड़ी वजह उद्घाटन पट्टिकाओं से विधायक के नाम का गायब होना भी है जो काफी हद तक उचित भी है।
विक्रमादित्य सिंह ने कहा है कि स्थानीय विधायक का लोकापर्ण पाटिकाओं में नाम न लिखना भी लोकतंत्र में जनमत का अपमान है और यह कोई स्वस्थ परम्परा नही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.