Today News Hunt

News From Truth

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सरकाघाट विधानसभा क्षेत्र में 140 करोड़ रुपये की लागत की योजनाओं के किए उद्घाटन और शिलान्यास

1 min read
Spread the love

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज जिला मंडी के सरकाघाट विधानसभा क्षेत्र में 140 करोड़ रुपये लागत की 12 विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास किए। इनमें 100 करोड़ रुपये की परियोजनाएं सरकाघाट क्षेत्र के बलद्वाड़ा में क्रियान्वित की जाएंगी।

जय राम ठाकुर ने तलाऊ में 2.91 करोड़ रुपये की लागत से बने 33/11 के.वी. सब-स्टेशन, ग्राम पंचायत नवानी, कशमैला, धनलग चैक, जाहमत और नरोला के लिए डेहर में सतलुज नदी से 27.85 करोड़ रुपये की लागत की विभिन्न उठाऊ जलापूर्ति योजनाओं के संवर्धन कार्य, 3.14 करोड़ रुपये की लागत से बने खुडला-सारस-समलोन-कलथार सड़क और 2.83 करोड़ रुपये की लागत से बने अप्पर भामला से खरेड़ दधवान सम्पर्क मार्ग के उद्घाटन किए।

मुख्यमंत्री ने 2.60 करोड़ रुपये की लागत से 33/11 के.वी. सब-स्टेशन खुडला की सिंगल सर्कट एच.टी. लाइन बिछाने, 2.78 करोड़ रुपये की लागत वाले अम्बला-गलू-अन्धारा-हरवान सड़क, जल शक्ति खंड सरकाघाट के अन्तर्गत 55.25 करोड़ रुपये की लागत से विभिन्न उठाऊ जलापूर्ति व जलापूर्ति योजनाओं का स्त्रोत स्तर पर संवर्धन और सरकाघाट तहसील की ग्राम पंचायत नरोला के मटयारा में 2.12 करोड़ रुपये की लागत से बहाव सिंचाई व उठाऊ सिंचाई योजनाओं के शिलान्यास किए।

बलद्वाड़ा में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने राजकीय माध्यमिक पाठशाला कलखर को राजकीय उच्च पाठशाला में स्तरोन्नत करने, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बलद्वाड़ा को 50 बिस्तर क्षमता वाले नागरिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने, राजकीय महाविद्यालय बलद्वाड़ा में विज्ञान की कक्षाएं आरम्भ करने, ढलवान में उप-तहसील खोलने, पत्रीघाट पशु औधालय को पशु अस्पताल के रूप में स्तरोन्नत करने और भांबला में हैलीपेड के निर्माण की घोषणा की।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में कोविड-19 के लिए लगभग 97 प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य हासिल कर लिया है। यह चिकित्सकों और पैरा-मेडिकल स्टाफ के परिश्रम के अतिरिक्त प्रदेशवासियों के सक्रिय सहयोग से सम्भव हो पाया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने यह सुनिश्चित किया है कि प्रदेश में कोई भी व्यक्ति बिस्तर और आॅक्सीजन की अनुपलब्धता के कारण चिकित्सीय उपचार से वंचित न रहे। देश में जब यह महामारी फैली थी उस समय प्रदेश में केवल दो आॅक्सीजन सयंत्र थे जबकि अब राज्य में लगभग 28 आॅक्सीजन सयंत्र स्थापित किए जा रहे हैं जिनमें से 12 सयंत्र कार्यशील किए जा चुके हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार लोगांे को भ्रष्टाचारमुक्त शासन प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। इस सरकार में भ्रष्टाचार के लिए कोई भी स्थान नहीं है और पिछले लगभग साढ़े तीन वर्षांे के कार्यकाल के दौरान भ्रष्टाचार का एक भी मामला सामने नहीं आया है। उन्होंने का कि प्रदेश के लोगों ने लोकसभा, पंचायती राज संस्थानों, स्थानीय शहरी निकायों और दो विधानसभा क्षेत्रों के लिए हुए उप-चुनाव में वर्तमान राज्य सरकार को भरपूर सहयोग दिया है। पंचायती राज संस्थानों के चुनाव में चुनकर आए 75 से अधिक प्रधान भाजपा समर्थित हैं।

जय राम ठाकुर ने प्रदेश के लोगों का सामाजिक-आर्थिक उत्थान सुनिश्चित करने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई विभिन्न विकासात्मक कल्याणकारी योजनाओं से लोगों को अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि गृहिणी सुविधा योजना के अन्तर्गत 3.17 लाख पात्र परिवारों को निःशुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। केन्द्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं उठा पाने वाले गरीब परिवारों के लिए हिमकेयर योजना वरदान साबित हो रही है। इस योजना के अन्तर्गत 1.75 लोग लाभान्वित हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर विभिन्न सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक संगठनों को सम्मानित किया।

जल शक्ति मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने विभिन्न विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित करने के लिए क्षेत्र के लोगों की ओर से मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने प्रदेश में कोरोना महामारी से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने क्षेत्र के लोगों को आश्वासन दिया कि मुख्यमंत्री द्वारा आज किए गए जलापूर्ति परियोजनाओं के शिलान्यासों का कार्य एक वर्ष के भीतर पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसानों को लाभान्वित करने के लिए प्रदेश के निचले क्षेत्रों के सात जिलों में 1,688 करोड़ रुपये की बाह्य वित्तपोषित बागवानी शिवा परियोजना क्रियान्वित की जा रही है।

सरकाघाट के विधायक कर्नल इन्द्र सिंह ने क्षेत्र के लिए 140 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि सरकाघाट विधानसभा क्षेत्र में पिछले तीन वर्षों के दौरान सड़कों और पुलों के लिए 145 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए। मुख्यमंत्री द्वारा आज जल शक्ति मण्डल सरकाघाट के अन्तर्गत 55.25 करोड़ रुपये की विभिन्न उठाऊ जलापूर्ति योजनाओं और जलापूर्ति योजनाओं के स्त्रोत स्तरीय संवर्धन कार्य से क्षेत्र में जल की समस्या का समाधान होगा। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों की विस्तृत जानकारी दी।

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed