Today News Hunt

News From Truth

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने की मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की कार्यशैली की कड़ी आलोचना

1 min read
Spread the love

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को आड़े हाथ लेते हुए कहा है कि उन्हें प्रदेश की सीमाओं की कोई चिंता नही है।उन्होंने कहा है कि चीन प्रदेश के साथ लगती सीमा पर पक्के मकान और सड़के बना रहा है और सरकार स्थिति को नजरअंदाज किये हुए है।उन्होंने मुख्यमंत्री के किन्नौर व लाहुल स्पीति सीमा पर कल के दौरे का स्वागत करते हुए कहा कि अगर समय रहते उन्होंने पहले ही यहां का दौरा किया होता तो शायद आज यहां तनाब की कोई गम्भीर स्थिति न होती।
राठौर ने मुख्यमंत्री के सीमा दौरे के बाद स्थिति का ब्यौरा मांगा है।उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री का गुपचुप तरीके से एकाएक यहां जाना कई प्रश्न पैदा करता है इसलिए प्रदेश को सीमा की वास्तविक स्थिति की जानकारी मिलनी चाहिए।
राठौर ने कहा है कि कांग्रेस ने पिछले साल 5 अगस्त 2020 को इस बारे एक पत्र लिख कर सीमा पर कूनू और चारंग में चीन के इस अनाधिकृत निर्माण पर, जब खुफिया तंत्र असफल हो गया था और स्थानीय लोगों भेड़पालक ने यहां हो रहें निर्माण की एक वीडियो बना कर भेजा था।कांग्रेस ने उस समय अपनी चिंता प्रकट करते हुए सरकार को इस निर्माण बारे आगह किया था। कांग्रेस विधायक जगत सिंह नेगी ने भी अपनी इस चिंता से सरकार को अवगत करवाया था।उन्होंने कहा कि अगस्त 20 के बाद आज मई 2021 में 9 महीनों बाद मुख्यमंत्री को अपने इस प्रदेश की सीमा की याद आई है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने प्रधानमंत्री, गृह मंत्री, रक्षा मंत्री, प्रदेश के राज्यपाल, मुख्यमंत्री को अपने इस पत्र में प्रदेश के साथ लगती चीन की गतिविधियों और लोगों की सुरक्षा के प्रति अपनी चिंता प्रकट की थी।
राठौर ने कहा कि कल मुख्यमंत्री के अचानक इस क्षेत्र के दौरे और आईटीबीपी के सीमा अधिकारियों के साथ बातचीत के खुलासे ने प्रदेश में चिंता को बड़ा दिया है।मीडिया में आई सूचनाओं के बाद हाई अलर्ट का जारी होना इस क्षेत्र में लोगों की सुरक्षा की चिंता बढ़ा रहा है।
राठौर ने कहा है कि चीन के साथ तनाब के बाद लाहुल स्पिति,चम्बा,किन्नौर के साथ लगती प्रदेश की सीमाओं पर चौकसी की आवश्यकता पर कांग्रेस पहले से ही सरकार को आगह करती रही है।उन्होंने कहा कि अब जबकि इस क्षेत्र में चीन ने अधिकतर अपना निर्माण कार्य पूरा कर दिया है । भविष्य के लिए यह प्रदेश की प्रभुसत्ता के लिए गम्भीर चुनोती और एक बड़ा खतरा उत्पन्न हो सकता है।उन्होंने कहा है कि यहां पर ओर अधिक सतर्कता के साथ साथ लोगों की सुरक्षा की एक बहुत बड़ी जिम्मेदारीवसरकार की है।उन्होंने कहा है कि सीमा पर रहने वाले प्रदेशवासियों को किसी भी प्रकार की कोई समस्या न हो उनके जानमाल की पूरी सुरक्षा हो यह पूरी तरह सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed