Today News Hunt

News From Truth

राज्य सरकार की तथाकथित किसान, बागवान व जनविरोधी नीतियों के खिलाफ कांग्रेस के जनाक्रोश सप्ताह का पार्टी अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने नारकण्डा से किया शुभारंभ, हर ज़िले में होगा आयोजन

1 min read
Spread the love

कांग्रेस ने भाजपा की किसान,बागवान के साथ साथ जनविरोधी नीतियों व कार्यक्रमों के विरोध में पहले चरण में जनाक्रोश सप्ताह का नारकंडा से आज शुरू कर दिया जो इसके बाद सभी जिलों व ब्लोको में आयोजित किया जाएगा।
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव प्रेदश मामलों के सचिव प्रभारी की उपस्थिति में नारकंडा में कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने आज इस जनाक्रोश सप्ताह का शुभारंभ किया।इस दौरान कांग्रेस नेताओं ने नारकंडा में हिमाचल में सेब के जनक स्व.सत्य नन्द स्टॉक्स की प्रतिमा के आगे बैठ कर धरना दिया।
इस दौरान संजय दत्त ने केंद्र व प्रदेश भाजपा सरकारों की आलोचना करते हुए कहा कि पिछले 6 महीनों से देश का किसान तीन काले कानूनों के विरोध में सड़कों पर बैठा है।उन्होंने कहा कि न तो उनकी कोई बात सुनी जा रही है और न ही उनसे कोई बात की जा रही है।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश व किसानों को आत्मनिर्भर बनाने की बाते करते नही थकते आज यही देश अपनी बदहाली पर खड़ा है।देश मे बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी ने आम लोगों का जीना दूभर होता जा रहा है।देश की विकास दर निम्न स्तर से भी नीचे चली गई है।
दत्त ने कहा कि अन्न दाता किसानों को एक बार फिर से बढ़ी कंपनियों का गुलाम बनाने की पूरी कोशिश की जा रही है।उन्होंने कहा कि नए कृषि कानून किसानों व बागवानों के हित में नही है।उन्होंने कहा कि भाजपा ने सोची समझी रणनीति के तहत अपने कुछ उद्योपतियों को लाभ देने के लिए इन कानूनों को बनाया है जिससे उन्हें चुनावों में उनसे चंदा मिल सकें।
दत्त ने कहा कि कांग्रेस किसानों व बागवानों के साथ खड़ी है और उन्हें न्याय दिलवाने से पीछे नही हटेगी।उन्होंने कहा कि देश मे कांग्रेस सरकार बनते ही भाजपा के सभी काले कानूनों व जनविरोधी नीतियों से मुक्ति दिलायेगी।
कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने अपने संबोधन में कहा कि भाजपा का किसान व बागवान विरोधी चरित्र सबके सामने है।उन्होंने कहा कि जब जब प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी तब तब बागवानों पर डंडे व गोलियां बरसाई गई।उन्होंने कहा कि आज भी भाजपा बागवान विरोधी विशेष कर सेब विरोधी रही है।भाजपा ने हमेशा ही क्षेत्र बाद की राजनीति करती रही है और हमेशा ही प्रदेश को बांटने का प्रयास किया है।
राठौर ने कहा कि प्रदेश में सेब सीजन शुरू हो गया है।सरकार ने इसके विपणन की अब तक कोई व्यवस्था नही की है।उन्होंने कहा कि बागवानी मंत्री झूठ बोलने में माहिर है।उन्होंने कहा कि मंत्री ने बागवानों को आश्वासन दिया था कि इस बार कार्टन के रेट नही बड़ेगे, बाबजूद इसके रेट बढ़ा दिए गए है।उन्होंने कहा कि सरकार ने अपने इस कार्यकाल मे कोई भी राहत या मदद किसानों बागवानों को नही दी है।
राठौर ने कहा कि प्रदेश में आज हर वर्ग भाजपा की नीतियों व निर्णयों से आहत है।बढ़ती बेरोजगारी, महंगाई पर सरकार का कोई नियंत्रण नही है।भाजपा के नेता,मंत्री अधिकारियों कर्मचारियों को प्रताड़ित करने में जुटे है।सरकारी व्यवस्था को अस्त व्यस्त किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा को चुनावो की ज्यादा चिंता है जबकि समस्याओं की ओर उसका कोई भी ध्यान नही है।अपने खर्चे चलाने के लिए सरकार विकास के नाम पर ऋण पर ऋण लिये जा रही है।
राठौर ने लोगों का आह्वान किया कि वह एकजुट होकर कांग्रेस का साथ दे।कांग्रेस भाजपा के काले कानूनों व निर्णयों से प्रदेश को मुक्ति दिलायेगी।
विधायक नन्द लाल ने प्रदेश सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि आज प्रदेश विकास के मामले में पिछड़ता जा रहा है।उन्होंने कहा कि सरकार से आज कोई भी वर्ग खुश नही है क्योंकि उसने इस महामारी के दौरान किसी की भी कोई मदद नही की ।
विधायक मोहन लाल ब्राक्टा ने कहा कि प्रदेश के बागवानों व किसानों के साथ अन्याय सहन नही होगा।उन्होंने कहा कि सरकार की जनविरोधी नीतियों का एकजुटता के साथ विरोध करते हुए भाजपा को अगले साल 2022 में सत्ता से बाहर करने के लिए अभी से मैदान में उतरना है।उन्होंने कहा कि देश प्रदेश में भाजपा की उल्टी गिनती शुरू हो गई है।
इस दौरान उनके साथ विधायक नन्द लाल,मोहन लाल ब्राक्टा,कांग्रेस जिलाध्यक्ष ग्रामीण यशवंत छाजटा, कांग्रेस सचिव हरिकृष्ण हिमराल,सुशान्त कपरेट,अतुल शर्मा,ब्लॉक अध्यक्ष ठियोग कवंर नरेंद्र सिंह,रामपुर ब्लॉक अध्यक्ष साहिब सिंह महेता,रोहड़ू ब्लॉक अध्यक्ष करतार सिंह कुल्ला,चौपाल ब्लॉक अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह महेता,जिला परिषद सदस्य उज्वल मेहता,हुक्म चंद, त्रिलोक भलूनी, राजेश कवंर,मोनीता चौहान के अतिरिक्त आशीष कायथ,मोहन लाल,,विवेक थापर,राज कंवल,सागर कैथल भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed