Today News Hunt

News From Truth

सीमेंट के बढ़ते दाम और आसमान छूती महंगाई के खिलाफ आम आदमी पार्टी ने खोला मोर्चा -राज्य सरकार को घेरने का किया प्रयास

1 min read
Spread the love


हिमाचल प्रदेश की जनता का भरोसा हिमाचल प्रदेश की सरकार से उठ चुका है।क्योंकि महंगाई की मार से सरकार ने यहां की जनता का जीना हराम कर दिया है।हर चीज खास कर घरेलू उपयोग में आने वाली वस्तुओं के दाम आसमान छू रहे है लेकिन हिमाचल सरकार कुंभकर्णी नींद सो रही है।जिसका जनता समय पर जवाब मांगेगी और सरकार को इसका खामियाजा भुक्तने को भी तैयार रहना होगा। जोगटा ने कहा कि हिमाचल में बन रहा सीमेंट को तैयार करने में हमारी ही ज़मीन और अन्य सामग्री उपयोग होती है बावजूद इसके प्रदेश के लोगों को बाहरी राज्य से मंहगा सीमेंंट खरीदना पड़

रहा है। उन्होंने कहा कि हिमाचल की जनता को सीमेंट सस्ता तो मिलना ही चाहिए था साथ ही रॉयल्टी भी मिलनी चाहिए थी।जोगटा ने आरोप लगाया कि हिमाचल से सटी सीमाओं में सीमेंट की तस्करी और काला बाजारी का गोरखधंधा जोरों शोरों से पनप रहा है और इसमें संलिप्त लोगों को सरकार का आशीवार्द प्राप्त है।जिस कारण आम जनता कमर तोड महंगाई से झूजने को मजबुर है। सरकार को जनता की कोही परवाह नहीं है। इसी तरह की महगाई की मार प्रदेश के व्यापारियों खासकर होटल मालिकों को भी झेलनी पड़ रही है जिनके बिजली के बिल कमर्शियल दर पर कई कई हजारों के हिसाब से जारी किए गए और कोरोना काल में लॉकडाउन के दौरान जब तमाम इकाइयां ठप ओर बंद पड़ी थी उस दौरान के बिलों के ऊपर भी सरकार ने किसी तरह की राहत प्रदान नहीं की और इन लोगों की परेशानी का आलम देखते ही बनता था।जब की दिल्ली के मुख्य मंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली के होटल मालिकों को बिजली के बिलों पर सीधे 50% की छूट मुहैया करवाई । इसी तरह की छूट हिमाचल सरकार से भी वांछित है। जनता के साथ इस तरह के अन्याय को कतई सहन नहीं किया जाएगा ।जिसके लिए हिमाचल प्रदेश आम आदमी पार्टी ने प्रदेश में कमर कसनी शुरू कर दी है।
यहां जारी एक बयान में आम आदमी पार्टी के शिमला (शहरी) प्रभारी एस० एस०जोगटऻ ने कहा कि इसके साथ साथ तमाम जनता विरोधी मुद्दो को जनता तक पहुंचाया जाएगा और इस तरह के ढुल मूल रवये का डट कर विरोध किया जाएगा।

शिमला(शहरी),शिमला ही०प०

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed