Today News Hunt

News From Truth

ये पब्लिक है सब जानती है …………

1 min read
Spread the love


हिमाचल प्रदेश आम आदमी पार्टी ने सरकार को बार बार कर्ज लेने पर आड़े हाथ लेते हुए कहा है कि वर्तमान सरकार ने हिमाचल को कर्ज की गिरफत में जकड़ कर रखा दिया है।इससे साफ जाहिर है कि प्रदेश के हर क्षेत्र में विकास असम्भव हो रहा और सरकार विकास की झूूूठी डींगें हांक रही है । इसके बिल्कुल विपरीत सरकार अपने खर्चों में बिल्कुल कमी नहीं कर रही है और सरकारी गाडियों में करोड़ों रुपए सिर्फ डीजल व पैट्रोल पर ही फूूंका जा रहा है। उसी तरह उच्च अधिकारियों के साथ भी कुछ ऐसा ही माजरा देखने को मिल रहा है।इतना ही नहीं उनके साथ तो विभागों से भी गाडियां अटैच करवा रखीं है। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता एस. एस. जोगटा ने कहा कि लोग सब कुछ देखते है।जनता अनपढ़ नहीं है उन्हें सब समझ आता है।वो जमाने गए जब उनकी आंखो में धूल झोंकने का प्रयास किया जाता था। इस लिए ये सब जानते हुए भी हद तक कुछ नहीं कहते।इतना ही नहीं सरकारी अधकरियों की गाडियां तो छुट्टी वाले दिनों में भी दौड़ रही है इतवार हो चाहे कोई भी छुट्टी हो सड़कों में दौड़ती हुई नजर आती रहती है। किस लिए दौड़ती है ये भी सभी को मालूम है। ये समाज में मुट्ठीभर लोग जनता के खून पसीने के पैसों से खेल रहे है।इस सन्दर्भ में सरकार की मंशा यदि साफ हो तो कई तरकीबें है जिससे काफी हद तक खिफायत की जा सकती है। यदि सरकार चाहे तो आम आदमी पार्टी सरकार को सुझाव दे सकती है। उन्होंने कहा कि करोना काल में किसी गरीब ओर जरूरत मंद की भी कोई खास मदद नहीं हुई।इसके बावजूद सूत्रों के अनुसार W.H.O ने करोना संक्रमित मरीजों के वास्ते एक अच्छा पैकेज प्रदेश सरकार को मुहैया करवाया। फिर चीख पुकार किस बात की? जोगटा ने चुटकी लेते हुए कहा कि हिमाचल सरकार के पास तो Double Engine रूपी केंद्रीय सरकार विराज मान है।ऐसे दोहरे इंजन इमरजेंसी में काम आते है।अत: यहां पूछना उचित होगा कि दूसरे वाला इंजन ठीक से चल रहा है क्या?जिस इंजन कि बात चुनावों के दौरान जोर शोर से होती रही है ओर केंद्र से प्रदेश सरकार को हर तरह की मद्दत करने का सर्टिफिकेट बांटा जा रहा था। क्या ये सर्टिफिकेट भी फर्जी साबित हो रहा है? लगता तो कुछ ऐसा ही है।जैसे कि अब तक डबल इंजन वाली केंद्रीय सरकार ने तो अभी तक जीएसटी तक का हिस्सा राज्य सरकार को नहीं लौटाया।ओर तो उसने क्या विशेष पैकेज देना। जबकि हिमाचल की भौगोलिक परिस्थिति के मद्देनजर इसके लिए विशेष कैटेगरी राज्य की श्रेणी के तहत अलग से पैकेज की घोषणा होनी चाहिए थी।ताकि प्रदेश के चहुंमुखी विकास को सुनिश्चित किया जा सकता।जो कि नही हो सका ओर चुनावी वायदों को भी ठेंगा दिखाया जा रहा है। अत:इन तमाम पहेलियों के बारे में हिमाचल प्रदेश आम आदमी पार्टी सरकार से पूछना चाहती है और मांग भी करती है कि तमाम खर्चों अर्थात सरकार की कुल आय और ब्यय के ब्यौरे बारे श्वेत पत्र जारी करें।
एस०एस०जोगटऻ ने सरकार से इस बाबत पूरा लेखा जोखा सार्वजनिक करने की पुरजोर मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed